INDvsSL: भारत की अच्छी शुरुआत, धवन और राहुल क्रीज पर

0
24

भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी टेस्ट कैंडी के पल्लेकेले स्टेडियम में खेला जा रहा है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने 5 ओवर में 0 विकेट गंवा कर 21 रन बना लिए हैं. शिखर धवन (10 रन) और के.एल. राहुल (9 रन) क्रीज पर हैं.

इससे पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने लगातार तीसरी बार टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया. टीम इंडिया में रवींद्र जडेजा की जगह कुलदीप यादव को शामिल किया गया है. श्रीलंका की टीम में 3 बदलाव हुए हैं लक्षण रंगीका, विश्व फर्नांडो और लाहिरू कुमारा को श्रीलंकाई टीम में शामिल किया गया है.

3 टेस्ट मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले दो मुकाबलों में टीम इंडिया ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की और सीरीज में अजेय बढ़त बनाई. अब बारी है इतिहास रचने की. वो कारनामा करने की जो भारतीय क्रिकेट इतिहास में पहले कभी नहीं हुआ. टेस्ट इतिहास में कोई भी भारतीय कप्तान विदेशी सरजमीं पर 3-0 से सीरीज नहीं जीत सका है. अब विराट कोहली के पास ये मौका है, जिसके लिए उसे पल्लेकेले में जीत का तिरंगा लहराना ही होगा.

पल्लेकेले की पिच

पल्लेकेले की पिच एशिया की तेज पिचों में से एक है. यहां पर तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है. पिच में उछाल और तेजी दोनों होता है. मुमकिन है कि श्रीलंकाई टीम यहां पर तीन तेज गेंदबाजों के साथ उतरे. टीम इंडिया ने इस मैदान पर कभी टेस्ट मैच नहीं खेला है, ऐसे में इस मैदान की पिच टीम इंडिया के बल्लेबाजों के लिए मुश्किलें जरूर पैदा कर सकती है. पिछले दो मैचों में टीम इंडिया ने 600 रनों का आंकड़ा पार किया, पल्लेकेले में ऐसा होने के आसार कम ही हैं.

टीम इंडिया के बल्लेबाज-गेंदबाज फॉर्म में

पल्लेकेले में पिच कैसी भी हो लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि टीम इंडिया के बल्लेबाज जबर्दस्त फॉर्म में हैं. चेतेश्वर पुजारा 2 मैच में सबसे ज्यादा 301 रन बना चुके हैं. शिखर धवन के नाम भी 239 रन हैं. रहाणे भी दो मुकाबलों में 212 रन बनाकर जबर्दस्त फॉर्म में हैं. कप्तान विराट कोहली ने भी गॉल टेस्ट में शतकीय पारी खेली थी. टीम इंडिया की बल्लेबाजी में खासा गहराई है. हालांकि इस मैच में रवींद्र जडेजा के ना रहने से टीम इंडिया की बल्लेबाजी नंबर 8 तक रहेगी. गेंदबाजी की बात करें तो अश्विन ने अपनी लय पकड़ी हुई है. पल्लेकेले की पिच पर उमेश यादव और मोहम्मद शमी को मदद मिल सकती है.

टीम इंडिया

मैच से दो दिन पहले तक यहां की पिच बिल्कुल पल्लेकेले स्टेडियम की हरी भरी पिच की तरह लग रही थी. पिच को देखते हुए कोहली भुवनेश्वर कुमार को तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में उतार सकते हैं जो हार्दिक पंड्या की जगह ले सकते हैं. भुवनेश्वर ने कोहली की कप्तानी में टेस्ट टीम में मिले कुछ मौकों पर भी अच्छा प्रदर्शन किया है.

जबकि चाइनामैन कुलदीप यादव को दूसरे स्पिनर के रूप में उतारा जाएगा. कुलदीप यादव ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला की उछालभरी पिच पर अच्छा प्रदर्शन किया था. पहली पारी में उसके चार विकेट निर्णायक साबित हुए.

श्रीलंका

पिछले कुछ समय से बुरे दौर से गुजर रही श्रीलंकाई टीम ने औपचारिकता के इस मैच में हरी भरी पिच तैयार की है. हालांकि खराब मौसम के कारण भारतीय टीम अभ्यास नहीं कर सकी. श्रीलंका ने तेज गेंदबाज दुष्मंता चामीरा और लाहिरू गामेगे को टीम में जगह दी है जो घायल नुवान प्रदीप और रंगाना हेराथ की जगह लेंगे.

श्रीलंका ने पहले दो टेस्ट मैचों में सिर्फ एक पारी में 300 का आंकड़ा पार किया है. पिछले टेस्ट मैच में दिमुथ करुणारत्ने और कुशल मेंडिस के शतकों की बदौलत श्रीलंका ने कुछ लाज बचाई थी. पिछले मैच में जरूर श्रीलंका हार गई थी, लेकिन दूसरी पारी में उसकी बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया था. यही उसके लिए तीसरे मैच में सकारात्मक पहलू है.

दोनों टीमें

भारत: के एल राहुल, शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान) अजिंक्य रहाणे, हार्दिक पंड्या, रविचंद्रन अश्विन, ऋद्धिमान साहा, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी और उमेश यादव.

श्रीलंका : उपुल थरंगा, दिमुथ करुणारत्ने, कुशल मेंडिस, एंजेलो मैथ्यूज, दिनेश चांडीमल(कप्तान), निरोशन डिकवेला, दिलरुवान परेरा, विश्व फर्नांडो, लक्षण रंगीका और लाहिरू कुमारा.