जीएसटी दरों में कटौती से दलाल स्ट्रीट में लौटी रौनक

0
5

रोजमर्रा के इस्तेमाल की कई वस्तुओं पर जीएसटी दरें घटाने से शुक्रवार को दलाल स्ट्रीट में रौनक दिखी। बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स 63.63 अंक की बढ़त लेकर 33314.56 पर बंद हुआ। दिन के दौरान इसने 33380.42 का अधिकतम स्तर छुआ था। बीते दिन इसमें 32 अंक की बढ़त हुई थी। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 12.80 अंक की मामूली बढ़त लेकर 10321.75 के स्तर पर बंद हुआ।

जीएसटी काउंसिल की बैठक में 28 फीसद की सबसे ऊंचे स्लैब में से 177 वस्तुओं को बाहर करने का फैसला लिया। जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के रिसर्च हेड विनोद नायर ने कहा, ‘जीएसटी काउंसिल के फैसले से उपभोक्ता वस्तुओं, ऑटो सेक्टर की सहायक कंपनियों, इन्फ्रा और निर्माण उत्पाद से जुड़े शेयरों में तेजी आई। हालांकि ग्लोबल मार्केट में नरमी और क्रूड की बढ़ती कीमत ने निवेशकों को कदम खींचने पर मजबूर किया।’ सऊदी अरब की राजनीतिक उठापटक और क्रूड की कीमतों में तेजी के चलते प्रमुख एशियाई बाजारों में मिलाजुला कारोबार हुआ। यूरोपीय शेयरों में भी गिरावट आई।

साप्ताहिक आधार पर इस हफ्ते सेंसेक्स और निफ्टी में गिरावट रही। सेंसेक्स कुल 371 अंक लुढ़का। बीते हफ्ते सेंसेक्स में 528 अंक की तेजी आई थी। निफ्टी में भी इस हफ्ते 131 अंक का नुकसान हुआ। बीते हफ्ते यह सूचकांक 129 अंक चढ़ा था। शुक्रवार को 6.20 फीसद की तेजी के साथ भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआइ) का टॉप गेनर रहा। इस दिन सेंसेक्स के 14 शेयरों में मुनाफा हुआ, जबकि 16 कंपनियों के शेयरों में घाटा हुआ।

रुपया एक माह के निचले स्तर पर
पिछले दो दिनों की तेजी के विपरीत शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 22 पैसे गिरकर 65.17 पर बंद हुआ। डॉलर की खरीद में अनायास बढ़ोतरी होने के कारण रुपये पर दबाव बना और एक्सचेंज रेट 10 अक्टूबर के बाद के सबसे निचले स्तर पर आ गया।

साइबर सुरक्षा पर बीएसई की सलाह
बीएसई ने साइबर हमले के खतरे से निपटने के लिए एडवाइजरी जारी की है। बीएसई ने कंपनियों को इन खतरों से निपटने के लिए सुरक्षात्मक कदम उठाने का कहा है। हाल में वानाक्राई, पेटया और लौकी जैसे रैनसमवेयर प्रोग्रामों ने दुनियाभर में तमाम कंपनियों को निशाना बनाया था। बीएसई ने कहा कि तकनीक, कंप्यूटर और इंटरनेट रोजमर्रा की जिंदगी में शामिल होते जा रहे हैं। ऐसे में साइबर हमलों से बचने के लिए कदम उठाना जरूरी हो गया है।

NO COMMENTS